स्मार्ट सिटी परियोजना: दूसरी वर्षगांठ से कार्ड से भरें जुर्माना!


Post Date : 20/06/2017

अगर आप के पास पैसे नहीं हैं तो कार्ड के जरिये वाहन का जुर्मना भरना भर सकते हैं। यह व्यवस्था नगर निगम स्मार्ट सिटी परियोजना की दूसरी वर्षगांठ (Smart City project second anniversary) पर आगामी 25 जून से शुरू करने जा रहा है। नगर निगम की नै शुरुआत के बाद जेब में पैसा न होने का बहाना नहीं चलेगा। नगर निगम नो पार्किंग से गाड़ी उठाई गई गाड़ियों और हॉउस टैक्स भी कार्ड के जरिये लेने की तैयारी में है। नगर निगम ने इसके लिए दो निजी बैंकों के सहयोग से स्वाइप मशीनें ली हैं।
रोजाना नो-पार्किंग जोन से उठाये जाते हैं 100 वाहन अपर नगर आयुक्त पीके श्रीवास्तव के अनुसार नो पार्किंग पर खड़े वाहनों को नगर निगम की क्रेन उठाकर लाती है। इस दौरान वाहन स्वामी तरह-तरह के बहाने बनाते हैं। वह पैसे ना होने का भी बहाना बनाते हैं ऐसे में अब जुर्माना डेबिट कार्ड से भरना होगा। इसकी शुरुआत स्मार्ट सिटी परियोजना की दूसरी वर्षगांठ पर 25 जून से हो जाएगी। अभी तक कई वाहन स्वामी डेबिट कार्ड से जुर्माना लेने का दबाव मनाते थे। इस योजना को स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत लागू किया जा रहा है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि जुर्माने में एक हजार रुपये नगर निगम के पास और सौ रुपये यातायात विभाग को जाता है।
उन्होंने बताया कि शहर में 15 क्रेन को वाहन उठाने के लिए लगाया गया है। हर क्रेन को कम से कम दस वाहन उठाने का लक्ष्य सौंपा गया है। रोजाना कम से कम दो सौ वाहन नो-पार्किंग जोन में खड़े होने पर जब्त कर जुर्माना वसूला जाता है। स्वाइप मशीनें के जरिये अब हाउस टैक्स का भुगतान भी डिजिटल ही किया जायेगा। उन्होंने बताया कि नगर निगम के हर कैश काउंटर पर स्वाइप मशीन लगाई जाएगी। इसके अलावा 26 ई-सुविधा केंद्रों पर अब भुगतान करते ही अपडेट मिल जाएगा। 25 जून से शहर वासियों को कई सुविधाएं मिलेंगी।


© 2016 -2017 HindustanResult.com All Rights Reserved